YUV News Logo
YuvNews
Open in the YuvNews app
OPEN

फ़्लैश न्यूज़

नेशन रीजनल

विपक्षी दल घोषणा पत्र में वादा करें सत्ता में आए तो धारा-370 व 35ए फिर लागू करेंगे : मोदी -इस मुद्दे पर सियासी रोटियां सेंकना बंद करें विपक्षी दल

विपक्षी दल घोषणा पत्र में वादा करें सत्ता में आए तो धारा-370 व 35ए फिर लागू करेंगे : मोदी -इस मुद्दे पर सियासी रोटियां सेंकना बंद करें विपक्षी दल

विपक्षी दल घोषणा पत्र में वादा करें सत्ता में आए तो धारा-370 व 35ए फिर लागू करेंगे : मोदी
-इस मुद्दे पर सियासी रोटियां सेंकना बंद करें विपक्षी दल 
जलगांव । महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव से ठीक एक हफ्ते पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जलगांव से अपने चुनाव प्रचार का आगाज करते हुए कांग्रेस पर जमकर हमला बोला। अनुच्छेद 370, 35ए, तीन तलाक जैसे मुद्दों पर विपक्षी दलों को घेरते हुए पीएम मोदी ने चुनौती दी कि अगर कांग्रेस समेत विरोधियों में हिम्मत है, तो वे अपने चुनावी घोषणापत्र में लिखकर दिखाएं कि वे इस ऐतिहासिक फैसले को पलट देंगे। 
पीएम मोदी ने मराठी में अपने भाषण की शुरूआत करते हुए कहा कि देश का विपक्ष घड़ियाली आंसू बहा रहा है। पाकिस्तान का नाम लिए बगैर उन्होंने कांग्रेस पर पड़ोसी देश की भाषा बोलने का भी आरोप लगाया। पीएम मोदी ने भाषण की शुरुआत में ही कहा कि नए भारत का नया जोश दुनिया देख रही है। पीएम मोदी ने कहा आज मैं विरोधियों को खुली चुनौती देता हूं उनमें हिम्मत हैं तो वे अपने चुनाव घोषणा पत्र में वादा करें कि यदि वे सत्ता में आए तो कश्मीर में अनुच्छेद 370 और 35ए को फिर से लागू करेंगे। उनमें हिम्मत है तो ऐलान करें कि वे 5 अगस्त के निर्णय को बदल देंगे। अगर ऐसा नहीं करते हैं, तो फिर घड़ियाली आंसू बहाना बंद करें। तीन तलाक पर कांग्रेस समेत तमाम दलों ने कोशिशें की, लेकिन हमने मुस्लिम माताओं-बहनों से जो वादा किया, उसे पूरा कर दिया। 
पीएम मोदी ने कहा कि वह विरोधी दलों को चुनौती देते हैं कि यदि आपमे हिम्मत है तो घोषणा कीजिए कि सत्ता में आने पर फिर से तीन तलाक का कानून लाएंगे। मैं जानता हूं कि वे ऐसा नहीं करेंगे। उन्हें पता है कि तीन तलाक के कारण सिर्फ मुस्लिम माताओं-बहनों को ही हक नहीं मिला है, इससे मुस्लिम पिता और भाई भी निश्चिंत हुए हैं। वे जानते हैं कि नया कानून बनने के बाद बहन-बेटियों का परंपरा के नाम पर उत्पीड़न नहीं किया जा सकेगा।
पीएम मोदी ने कहा 5 अगस्त को आपकी भावना के अनुरूप भाजपा-राजग सरकार ने अभूतपूर्व फैसला लेते हुए असंभव लग रहे अनुच्छेद 370 और 35 ए के प्रावधानों को खत्म कर दिया। जम्मू-कश्मीर और लद्दाख हमारे लिए सिर्फ जमीन का टुकड़ा भर नहीं है। वह भारत का मस्तक है। दुर्भाग्य से देश के कुछ राजनीतिक दल और नेता राष्ट्रहित में लिए गए इस निर्णय पर राजनीति करने में जुटे गए हैं। वे इसे चुनावी मुद्दा बनाने का प्रयास कर रहे हैं। 
पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस और राकांपा के बयान देख लीजिए। जम्मू-कश्मीर को लेकर जो देश सोचता है, उससे एकदम उल्टा इनकी बातों में दिखता है। वे भारत की कम, पड़ोसी देश की ज्यादा भाषा बोल रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि नए भारत का नया जोश दुनिया को दिखने लगा है। आप भी महसूस कर रहे होंगे, लेकिन बताइए पहले कभी आपने इसे अनुभव किया है क्या? एक बात याद रखिए, यह मोदी के कारण नहीं आपके वोट के कारण हो रहा है। आपने जाति, धर्म, संप्रदाय से ऊपर उठकर एक निर्णायक जनादेश दिया है। यह उसका कमाल है।
पीएम मोदी ने कहा महाराष्ट्र में देवेंद्र फडनवीस दूसरे मुख्यमंत्री हैं, जिन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया है। उनसे पहले एक मुख्यमंत्री अपना कार्यकाल पूरा करने में सफल रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा सीएम फड़नवीस के नेतृत्व में राज्य ने चहुमुखी विकास किया है। सड़क से लेकर सिंचाई, किसान से लेकर कारोबार हर क्षेत्र में सरकार ने अच्छा काम किया है। थके हुए साथी एक दूसरे के लिए सहारा तो बन सकते हैं लेकिन महाराष्ट्र के युवाओं के सपनों को पूरा करने का माध्यम नहीं बन सकते। इस लिए सीएम फड़नवीस को एक बार फिर मौका दीजिए।
पीएम मोदी ने कहा हम अगले 5 वर्षों के लिए देवेंद्र फडनवीस की अगुआई में सरकार बनाने के लिए एक बार फिर आपका समर्थन मांगने आए हैं। लेकिन जलगांव की धरती पर आने का मतलब इतना ही नहीं है। आपने जो विश्वास भाजपा और राजग पर जताया है, हम उसका आभार भी जताने आए हैं। आपने चार महीने पहले सशक्त और नए भारत के निर्माण के लिए वोट किया था, हम उसके लिए आपके प्रति आभारी हैं। 
उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में 13 से 18 अक्टूबर के बीच 9 जनसभाओं को संबोधित करेंगे। रविवार को पीएम मोदी की दो सभाओं के बाद 16 अक्टूबर को अकोला, पनवेल, पारतुर, 17 अक्टूबर को पुणे, सातारा, परली में रैलियां होंगी। मुंबई में 18 अक्टूबर को पीएम की महारैली होगी।

Related Posts

0 comments on "विपक्षी दल घोषणा पत्र में वादा करें सत्ता में आए तो धारा-370 व 35ए फिर लागू करेंगे : मोदी -इस मुद्दे पर सियासी रोटियां सेंकना बंद करें विपक्षी दल "

Leave A Comment